Breaking News

देश में कोरोना वायरस मामलों की संख्या 60 हजार के पार, 2 हजार से अधिक लोगों की मौत

118 new cases of corona in 24 hours six dead

देश में कोविड-19 के संक्रमण के मामलों की संख्या शनिवार को 62,000 के आंकड़े को पार कर गई, जबकि महामारी के कारण मरने वालों की संख्या भी 2,000 से ज्यादा हो गई है। राज्यों में कोरोना वायरस संक्रमण के सामने आ रहे सैकड़ों मामलों और वैश्विक स्तर पर लॉकडाउन में ढील देने वाली अर्थव्यवस्थाओं में संक्रमण के बढ़ते मामलों ने सरकारों की चिंताएं बढ़ा दी हैं। 

हालांकि पीटीआई-भाषा की तालिका के मुताबिक रात नौ बजे तक विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों से देश भर में संक्रमण के 62,613 मामले सामने आ चुके है, 18,715 लोग ठीक हो चुके हैं जबकि 2016 लोगों की इस बीमारी से जान जा चुकी है। यह शुक्रवार सुबह से संक्रमण के मामलों में छह हजार की बढ़ोतरी दर्शाता है। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, कर्नाटक, बिहार और असम समेत कई अन्य जगहों से शनिवार को संक्रमण के नए मामले सामने आए। 

महाराष्ट्र, गुजरात,तमिलनाडु और दिल्ली समेत कई अन्य स्थानों पर बड़ी संख्या में बढ़ते मामलों के बीच विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि बड़ी संख्या में ट्रेनों और बसों से पैतृक स्थानों के लिये भेजे जा रहे प्रवासियों के आवागमन तथा विशेष उड़ानों से विदेशों से लाए जा रहे भारतीयों की वजह से आने वाले दिनों में संक्रमण के मामलों में और बढ़ोतरी होगी। 


जांच में आई रफ्तार
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि कोविड-19 की जांच बढ़कर प्रतिदिन लगभग 95,000 हो गई है, जबकि 332 सरकारी और 121 निजी प्रयोगशालाओं में अब तक कुल 15 लाख 25 हजार 631 जांच की जा चुकी हैं। कुछ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लगातार बड़ी संख्या में मामले सामने आ रहे हैं। केरल और पूर्वोत्तर समेत कुछ छोटे राज्यों में संक्रमण के मामले या तो नहीं हैं या इनकी संख्या इकाई में है। 

विश्व में 2.75 लाख लोगों की जान जा चुकी है
दिसंबर में चीन में मामले सामने आने के बाद से वैश्विक स्तर पर दुनिया में करीब 40 लाख लोग अब तक इस महामारी से संक्रमित हो चुके हैं जबकि करीब 2.75 लाख लोगों की जान जा चुकी है। थोड़ी राहत की बात यह है कि इस बीमारी से दुनिया भर में करीब 13 लाख लोग ठीक भी हो चुके हैं। इनमें से दो लाख अमेरिका में और 1.4 लाख जर्मनी के हैं। जर्मनी और दक्षिण कोरिया उन देशों में शामिल हैं जिन्होंने अपनी व्यापक जांच और संपर्कों की पहचान के जरिये बड़ी संख्या में संभावित मौतों को टाला है। लेकिन शनिवार को चिंता के बादल दोनों देशों में तब फिर मंडराने लगे जब बंद में कई छूट दिये जाने के बाद वहां संक्रमण के फिर से पांव पसारने का जोखिम बढ़ गया। 

राष्ट्रव्यापी बंद के तीसरे चरण में कुछ ढील
भारत में भी 25 मार्च से लागू राष्ट्रव्यापी बंद के तीसरे चरण में कुछ ढील दी गई है। बंद के फिलहाल 17 मई को खत्म होने की उम्मीद है। गोवा के कला एवं संस्कृति मंत्री गोविंद गावड़े ने शनिवार को कहा कि प्रदेश सरकार संगीत कक्षाओं के आयोजन और सरकारी पुस्तकालयों को चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने की इजाजत दे सकती है और यह अनुमति सख्त सामाजिक दूरी के नियमों के पालन की शर्त पर दी जाएगी। 

गोवा में कोई मामला नहीं
गोवा को फिलहाल कोरोना वायरस संक्रमण का कोई मामला नहीं मिलने के बाद ग्रीन जोन में रखा गया है। फंसे हुए लाखों प्रवासी कामगारों को उनके पैतृक स्थान तक पहुंचाने के लिये विशेष ट्रेनों और बसों का संचालन किया जा रहा है वहीं विदेशों में फंसे भारतीयों को भी विशेष उड़ानों से वापस लाया जा रहा है। 

No comments