Breaking News

भई वाह! साइबर ठगी के शिकार सरकारी ठेकेदार को 24 घंटे में वापस मिल गए 80 लाख


Cyber Crime
Cyber Crime - फोटो : Social Media

खास बातें

  • पुणे पुलिस ने ऑनलाइन ठगों से वापस दिलवाई रकम
  • ठेकेदार की कंपनी के बैंक खाते से छह दिसंबर को उड़ा ली गई थी रकम
  • अगले दिन सात दिसंबर को ठेकेदार ने साइबर पुलिस के पास शिकायत की
आए दिन ऐसी खबरें आती रहती हैं कि डेबिट कार्ड जेब में होने के बावजूद खाते से रुपये निकल गए और रकम वापस पाने में पीड़ित की एड़ियां घिस जाती हैं। पुणे पुलिस ने ऐसी ही एक घटना में मुस्तैदी दिखाते हुए 24 घंटे के अंदर 80 लाख रुपये उड़ाने का केस हल कर रकम पीड़ित को वापस करवा दीं।
दरअसल सरकारी ठेकेदार की कंपनी के बैंक खाते से साइबर धोखेबाजों ने छह दिसंबर को ये रकम उड़ा ली थी। पुणे साइबर पुलिस थाने के अधिकारियों को पता चला कि ठेकेदार की कंपनी ‘ग्लोब इंपेक्स ट्रेडर्स’ के जयपुर स्थित देना बैंक के खाते से उक्त रकम निकाल ली गई।

घटना के बाद ठेकेदार सात दिसंबर को साइबर पुलिस के पास इसकी शिकायत दी। डीसीपी संभाजी कदम की अगुवाई में एसीपी शिवाजी पवार और इंस्पेक्टर जयराम पाइगुडे की टीम ने जांच शुरू की। पुलिस अधिकारियों की तत्परता से अवैध तरीके से निकाली गई रकम 24 घंटे में शिकायतकर्ता के खाते में वापस पहुंच गई।

साइबर धोखेबाजों के चंगुल से ऐसे बचाई रकम

पुलिस ने देना बैंक से संपर्क किया और उसे 80 लाख रुपये की धोखाधड़ी से संबंधित एक ईमेल भेजा। जानकारी मिलते ही बैंक अधिकारियों ने उस रकम को फ्रीज कर दिया और उस पैसे को शिकायतकर्ता के खाते में वापस कर दिया। साइबर पुलिस थाने के अधिकारी इस ऑनलाइन ठगी में शामिल आरोपियों की पहचान करने के लिए जांच कर रहे हैं।

No comments