Breaking News

बजट 2019: कुमार विश्वास बोले- अब 'भक्त' इसे सदी का सबसे महान बजट बताएंगे

बजट 2019: कुमार विश्वास बोले- अब 'भक्त' इसे सदी का सबसे महान बजट बताएंगे
Budget 2019: कुमार विश्वास ने नरेंद्र मोदी सरकार के बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त की है.

खास बातें

  1. कुमार विश्वास ने बजट पर किया ट्वीट
  2. कहा- भक्त इसे सदी का सबसे महान बजट बताएंगे
  3. विरोधी भी बिना देखे और पढ़े आलोचना करेंगे
नई दिल्ली: 
नरेंद्र मोदी सरकार के अंतरिम बजट पर कवि कुमार विश्वास(Kumar Vishwas) ने भी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि अब भक्त इसे सदी का सबसे महान  #Budget2019 बताएंगे और विरोधी इस बजट को जानने-पढ़ने व चर्चा के बजाय आम आदमी और देश के ख़िलाफ़ बजट बताएंगे. मीडिया-मुग़ल राजनैतिक पार्टियों और आकाओं से अपने खट्टे-मीठे संबंधों के स्वादानुसार ज्ञान बघारेगें. देश के हिसाब से तटस्थ व्याख्या करिए ना. वहीं हाईरिस्क वाले इलाकों में तैनात सैनिकों का वेतन भत्ता बढ़ाने की बात का कुमार विश्वास ने समर्थन किया. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा-इसके लिए पीएमओ और पीयूष गोयल का आभार. उन्होंने सेना के ट्विटर हैंडल को टैग करते हुए कहा कि आपके त्याग का कोई प्रतिफल नहीं,मगर देश की ओर से यह कृतज्ञता ज्ञापन मात्र है. 


जब कवि कुमार विश्वास ने बजट को मध्यमवर्गीय भारत के लिए बेहतर बताया तो एक ट्विटर यूजर ने  मौज लेते हुए कहा-लेकिन आपकी कविताओं से जरूर वसूला जाएगा. इस पर रिट्वीट करते हुए कुमार विश्वास ने कहा- भाई हम पर तो 33 % आयकर और 18 % GST दे रहे हैं. करोड़ों में टैक्स दिया है,दे कर भी ख़ुश हैं बशर्ते कि वो पूजा-भाव से कमाया हुआ मानदेय देश का कोई दलाल चुरा न ले या राजनैतिक आकाओं की कृपा से पला हुआ कोई डकैत विदेश लेकर भाग न जाए बस.  देश के काम ईमानदारी से आ भर जाए.
fcprcde
बजट को लेकर ट्विटर यूजर ने चुटकी ली तो कुमार विश्वास ने कुछ यूं दिया जवाब.
राहुल ने करार दिया जुमला बजट
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi)ने शुक्रवार को पेश किए गएबजट (Budget 2019)को लेकरनरेंद्र मोदी सरकार (Modi Govt) पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने इस अंतरिम बजट को 'आखिरी जुमला बजट' करार दिया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा है, 'डियर नोमो, आपकी अक्षमता और अहंकार के 5 सालों ने हमारे किसानों की जिंदगी बर्बाद कर दी है. उन्हें प्रतिदिन 17 रुपये देकर वे जो करते हैं यह उनकी बेइज्जती है.' बता दें, इस साल होने वाले आम चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली राजग सरकार ने शुक्रवार को पेश अंतरिम बजट में किसानों को सालाना छह हजार रुपये देने और पशुपालन से संबंधित राष्ट्रीय गोकुल मिशन के लिए आवंटन बढ़ाने सहित किसानों के हित में कई घोषणाएं की हैं. 


किसानों के लिए बजट में क्या है
केंद्रीय वित्त मत्री पीयूष गोयल ने संसद में वित्त वर्ष 2019-2020 का अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा कि छोटे और सीमांत किसानों को निश्चित आय सहायता उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) की शुरूआत की है. गोयल ने कहा कि इस योजना के तहत दो हेक्टेयर तक की जोत वाले किसान परिवारों को 6,000 रुपये प्रति वर्ष सहायता उपलब्ध कराई जाएगी. यह राशि 2,000-2,000 की तीन किस्तों में प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) के जरिए सीधे किसानों के बैंक खातों में भेजी जाएगी. इस कार्यक्रम के लिए केंद्र सरकार धन उपलब्ध कराएगी.





No comments